• तुम जिंदगी की वो कमी हो..

    जो जिंदगी भर रहेगी....!!

  • सारी दुनिया की खुशी अपनी जगह …,

    उन सबके बीच तेरी कमी अपनी जगह …..!

  • सोचते हैं जान अपनी उसे मुफ्त ही दे दें,

    इतने मासूम खरीदार से क्या लेना देना..!

Reload

welcome

Sms.TheOneBlogs.com
  • Main Menu
  • english
  • french
  • italian

Drop us a line...

Send Message

shayari

Advertisement
WO khelti chli gai hum muskurate rahe – Pankaj
Are pagali hamko kamjor na samjh, hamne sirf dange chode hai tajurba to aj bhi wahi hai…..!! – Ajay
चलो आज फिर थोडा मुस्कुराया जाये… बिना माचिस के कुछ लोगो को जलाया जाये…!!
Ajeeb Neend meri Qismat me Likhi he, Palke Bandh hoti he to DiL jaag Jata he.
Dilo Ki Baat Karta Hai Zamana, Par Aaj bhee Mohabbat chehro se shuru hoti he.
काँटों और चाकु का तो नाम ही बदनाम है… चुभती तो निगाहें भी है… और… काटती तो जुबान भी है…
Aap ko jo dekha ham ne maano zindagi mil gayi Aap ka pyar payaa maano janat mil gayi ho..
Baithe Hai Aap youn Labon Ko See Kar! Ishaq Aksar JaaG Uthta Hai Aesi Khamoshi K Bad?
खुशबु की तरह मेरी हर साँस मैं पियर अपना बसने का वादा करो !!
Khushboo Ki Tarhaan Meri Har Sans Main Piyar Apka Basane ka waada karo !!
Teri lovely ankho ne mujhepe aisa effect kiya, Sabko reject kar maine tumko select kiya. – AMAN RAJ
Tumse Door Jane ki meri Har Muqammal Koshish, Mujhe Jane kyun Tere Aur Kareeb Le Aati he.
pyaar aap se kitna karte he bata nai sakate, bas jee nai sakte aap ke bina ye bhee sach he.
होता अगर मुमकिन, तुझे साँस बना कर रखते सीने में, तू रुक जाये तो मैं नही, मैं मर जाऊँ तो तू नही..
तुम्हारे दिल में कैद हैं हमारी धड़कनें.. धड़कते रहना वरना मर जाएंगे हम.. !!!
Mar te honge lakho tujhpar. hum to tere sath marna chahte hai ♡ – Dipak
कुछ रिश्तें मेहँदी के रंग की तरह हाेते है, शुरूआत में चटख़ ,बाद में फिके पड जाते है..!!
कोई तो बात हैं तेरे दिल मे, जो इतनी गहरी हैं कि, तेरी हँसी, तेरी आँखों तक नहीं पहुँचती..
वादे वफ़ा के और चाहत जिस्म की. अगर ये मोहब्बत है तो फिर हवस किसे कहते है..!
Ajeeb huner hai mere hathon me two line shayri likhne ka Mai aapni barbadiya liketa hu log wah wah karte hai
Dard Deti Hai Mujhe Humdardi Har Shaks Ki, Meri Duniya Ujari Thi, Ek Shaks Ne Yuhi Dilase Dekar,,
वो रोई तो जरूर होगी खाली कागज़ देखकर.. ज़िन्दगी कैसी बीत रही है पूछा था उसने ख़त में…
Jiski muhobbat me marne k liye tyar the hum… Aj usi ki bewafai ne hme jina sikha diya..
तुम जो कहो तो जिन्दगी की अगली साँस भी लेना भुल जाऊँ बस एक तुम्हेँ भुल जाना मेरे बस मेँ नही….!!
ऐसा नहीं है कि अब तेरी जुस्तजू नहीं रही, बस टूट-टूट कर बिखरने की हिम्मत नहीं रही…
Pyaar karna ab gunah sa lagta hai… Wo apna ho ke bhi paraya sa lagta hai…!! – Ajay Meena
अजीब सबूत माँगा उसने मेरी मोहब्बत का कि मुझे भूल जाओ तो मानूँ मोहब्बत है !
Ab Maayus Kyu Ho Uski Bewafayee Par, Tum Khud Hi kehte the wo Sabse alag he.
Aksar sukhe huye honthon se hi hoti he meethi baatein, Pyas bujh jaye to alfaz or insan dono badal jaya karte he.
न ख़ुशी खरीद पाता हूँ न ही गम बेच पाता हूँ फिर भी न जाने क्यों मैं हर रोज़ कमाने जाता हूँ
Wo Mujhse Door Rehkar Khush Hai Toh Rehne Do Use, Mujhe Chahat Se Zyada Uski Muskurahat Pasand hai.
सूरत परखने को तो आईने बहुत मिल जाते है बाजार में, सीरत परख सके, उस नज़र का इंतजार है..
मंजर भी बेनूर थे और फिजायें भी बेरंग थी, बस तुम याद आए और मौसम सुहाना हो गया.
तेरी वफ़ा के खातिर ज़लील किया तेरे शहर के लोगों ने !! इक तेरी कदर न होती तो तेरा शहर जला देते..
जिन्दगी की हर सुबह कुछ शर्ते लेके आती है। और जिन्दगी की हर शाम कुछ तर्जुबे देके जाती है।
झुठी शान के परिंदे ही ज्यादा फड़फड़ाते हैं ,, तरक्की के बाज़ की उडान में कभी आवाज़ नहीं होती ।
" उन्हे छत पे जाने से मना कर दिया हमने....... शहर मेँ बेवजह, ईद की तारीख बदल जाती....!!"
हम वही हैं,बस ज़रा ठिकाना बदल लिया है तेरे दिल से निकलकर अब ख़ुद में रहते हैं
किस किस तरह से छुपाऊँ तुम्हें मैं, मेरी मुस्कान में भी नज़र आने लगे हो तुम..
मत किया कर ऐ दिल किसी से मोहब्बत इतनी, जो लोग बात नहीं करते वो प्यार क्या करेंग..
अब हर कोई हमें आपका आशिक़ कह के बुलाता है इश्क़ नहीं न सही मुझे मेरा वजूद तो वापिस कीजिए ।
महसूस कर रहें हैं तेरी लापरवाहियाँ कुछ दिनों से... याद रखना अगर हम बदल गये तो, मनाना तेरे बस की बात ना होगी !!
युं तो गलत नही होते अंदाज चहेरों के; लेकिन लोग... वैसे भी नहीं होते जैसे नजर आते है...!!
वो महोब्बत के सौदे भी अजीब करती है, बस मुस्कुराती है और दिल चुरा लेती है..
​उन्होंने वक़्त समझकर गुज़ार दिया हमको और हम… उनको ज़िन्दगी समझकर आज भी जी रहे हैं।
जब भी माँगा वही माँगा जो मुक़द्दर में न था अपनी हर एक तमन्ना से शिकायत है मुझे !!
कितने भी काँटे क्यों ना हों राहो मे, आवाज़ अगर दिल से दोगी तो आएंगे ज़रूर.
तू अचानक मिल गई तो कैसे पहचानुंगा मैं, ऐ खुशी.. तू अपनी एक तस्वीर भेज दे….!!!!
गुनाह कुछ हमसे हो गए यूँ अनजाने में, फूलों का कत्ल कर दिया पत्थरों को मनाने में…
Tum Haqeeqat Ho Ya Faraib Meri Aankhon Ka Na Dil Say Niqaltay Ho Na Zindagi Mein Aatey Ho…!
Advertisement